उत्तर प्रदेश - भूमि प्रकार सूची
क्रम स. भूमि प्रकार भूमि प्रकार का विवरण भूमि प्रकार का कोड
1 1 ऐसी भूमि, जिसमें सरकार अथवा गाँवसभा या अन्य स्थानीय अधिकारिकी जिसे1950 ई. के उ. प्र. ज. वि.एवं भू. व्य. अधि.की धारा 117 - क के अधीन भूमि का प्रबन्ध सौंपा गया हो , खेती करता हो । 11
2 1-क भूमि जो संक्रमणीय भूमिधरों केअधिकार में हो। 12
3 1क(क) रिक्त 13
4 1-ख ऐसी भूमि जो गवर्नमेंट ग्रांट एक्ट केअन्तर्गत व्यक्तियों के पास हो । 14
5 2 भूमि जो असंक्रमणीय भूमिधरो केअधिकार में हो। 21
6 3 भूमि जो असामियों के अध्यासन या अधिकारमें हो। 31
7 4 भूमि जो उस दशा में बिना आगम केअध्यासीनों के अधिकार में हो जब खसरेके स्तम्भ 4 में पहले से ही किसी व्यक्तिका नाम अभिलिखित न हो। 41
8 4-क उ.प्र. अधिकतम जोत सीमा आरोपण.अधि.अन्तर्गत अर्जित की गई अतिरिक्त भूमि -(क)जो उ.प्र.जोत सी.आ.अ.के उपबन्धो केअधीन किसी अन्तरिम अवधि के लिये किसी पट्टेदार द्वारा रखी गयी हो । 42
9 4-क(ख) अन्य भूमि । 43
10 5-1 कृषि योग्य भूमि - नई परती (परतीजदीद) 51
11 5-2 कृषि योग्य भूमि - पुरानी परती (परतीकदीम) 52
12 5-3-क कृषि योग्य बंजर - इमारती लकड़ी केवन। 53
13 5-3-ख कृषि योग्य बंजर - ऐसे वन जिसमें अन्यप्रकर के वृक्ष,झाडि़यों के झुन्ड,झाडि़याँ इत्यादि हों। 54
14 5-3-ग कृषि योग्य बंजर - स्थाई पशुचर भूमि तथा अन्य चराई की भूमियाँ । 55
15 5-3-घ कृषि योग्य बंजर - छप्पर छाने की घास तथा बाँस की कोठियाँ । 56
16 5-3-ङ अन्य कृषि योग्य बंजर भूमि। 57
17 5-क (क) वन भूमि जिस पर अनु.जन. व अन्य परम्परागत वन निवासी (वनाधिकारों की मान्यत्ाा) अधि. - 2006 के अन्तर्गत वनाधिकार दिये गये हों - कृषि हेतु 58
18 5-क (ख) वन भूमि जिस पर अनु.जन. व अन्य परम्परागत वन निवासी (वनाधिकारों की मान्यत्ाा) अधि. - 2006 के अन्तर्गत वनाधिकार दिये गये हों - आबादी हेतु 59
19 5-क (ग) वन भूमि जिस पर अनु.जन. व अन्य परम्परागत वन निवासी (वनाधिकारों की मान्यत्ाा) अधि. - 2006 के अन्तर्गत वनाधिकार दिये गये हों - सामुदायिक वनाधिकार हेतु 60
20 6-1 अकृषिक भूमि - जलमग्न भूमि । 61
21 6-2 अकृषिक भूमि - स्थल, सड़कें, रेलवे,भवन और ऐसी दूसरी भूमियां जोअकृषित उपयोगों के काम में लायी जाती हो। 62
22 6-3 कब्रिस्तान और श्मशान (मरघट) , ऐसेकब्रस्तानों और श्मशानों को छोड़ करजो खातेदारों की भूमि या आबादी क्षेत्र में स्थित हो। 63
23 6-4 जो अन्य कारणों से अकृषित हो । 64
24 7 भूमि जो असामियों के अघ्यासन या अधिकारमें हो। 71
25 9 भूमि के ऐसे अध्यासीन जिन्होने खसरे के स्तम्भ 4 में उल्लिखित व्यकि्त की सम्मतिके बिना भूमि पर अधिकार कर लिया हो। 91
Software Powered by
National Informatics Center, U.P. State Unit.